Home >> Class 10 >> Hindi >>

Arth vichaar in Hindi (अर्थ विचार) Definition, Examples, Types, Explanation

Arth Vichaar, Types of Arth Vichaar, Arth Vichaar examples – अर्थ विचार की परिभाषा, अर्थ विचारके भेद और उदाहरण

Arth Vichaar in Hindi, (अर्थ विचार): इस लेख में हम अर्थ विचार के अंतर्गत अर्थ के आधार पर शब्द के भेदों को विस्तार-पूर्वक जानेंगे –

 

अर्थ के आधार पर शब्द के भेद

अर्थ के आधार पर शब्द के पाँच भेद हैं -

 

arth vichar

 

पर्यायवाची शब्द

'पर्याय' का अर्थ है- 'समान' तथा 'वाची' का अर्थ है- 'बोले जाने वाले' अर्थात जिन शब्दों का अर्थ एक जैसा होता है, उन्हें 'पर्यायवाची शब्द' कहते हैं। इसे हम ऐसे भी कह सकते है- जिन शब्दों के अर्थ में समानता हो, उन्हें 'पर्यायवाची शब्द' कहते है।

दूसरे अर्थ में- समान अर्थवाले शब्दों को 'पर्यायवाची शब्द' या समानार्थक भी कहते है।

जैसे- सूर्य, दिनकर, दिवाकर, रवि, भास्कर, भानु, दिनेश- इन सभी शब्दों का अर्थ है 'सूरज'।
इस प्रकार ये सभी शब्द 'सूरज' के पर्यायवाची शब्द कहलायेंगे।

 

Class 10 Hindi Grammar Lessons

Shabdo ki Ashudhiya
Arth vichaar in Hindi
Joining / combining sentences in Hindi
Anusvaar

More...

 

For a detailed lesson on paryayvachi shabd, click here -

 

एकार्थी शब्द

भाषा में कई शब्दों के स्थान पर जिस एक शब्द को बोल कर भाषा को अधिक प्रभावशाली एवं आकर्षक बनाया जाता है। उस एक शब्द को एकार्थी शब्द कहा जाता है।

जैसे- मछली की तरह आँखों वाली- मीनाक्षी
दूसरा उदाहरण- 'जिस स्त्री का पति मर चुका हो' शब्द-समूह के स्थान पर 'विधवा' शब्द अच्छा लगेगा।

इसी प्रकार, अनेक शब्दों के स्थान पर एक शब्द का प्रयोग कर सकते है। ऐसे शब्दों को एकार्थी शब्द कहा जाता है।

For a detailed lesson on ekarthi shabd, click here -

 

 

अनेकार्थी शब्द

जिन शब्दों के एक से अधिक अर्थ होते हैं, उन्हें 'अनेकार्थी शब्द' कहते है। अनेकार्थी का अर्थ है – एक से अधिक अर्थ देने वाला।

भाषा में कुछ ऐसे शब्दों का प्रयोग होता है, जो अनेकार्थी होते हैं। खासकर यमक और श्लेष अलंकारों में इसके अधिकाधिक प्रयोग देखे जाते हैं। नीचे लिखे उदाहरणों को देखें-

·   ''रहिमन पानी राखिए, बिन पानी सब सून।
पानी गए न ऊबरै, मोती, मानुष, चुन।''

·         ''चली चंचला, चंचला के घर से, तभी चंचला चमक पड़ी।''

उपर्युक्त उदाहरणों में प्रयुक्त शब्दों के अर्थ देखें:

पानी-  चमक (मोती के लिए)
इज्जत (मानव के लिए)
जल (चूना, आटे के लिए)

चंचला- लक्ष्मी, स्त्री, बिजली

For a detailed lesson on anekarthi shabd, click here -

 

युग्म-शब्द अथवा श्रुतिसमभिन्नार्थक-शब्द

हिंदी के अनेक शब्द ऐसे हैं, जिनका उच्चारण प्रायः समान होता हैं। किंतु, उनके अर्थ भिन्न होते हैं। इन्हें 'युग्म शब्द' कहते हैं।

दूसरे शब्दों में, वैसे शब्द, जो उच्चारण की दृष्टि से असमान होते हुए भी समान होने का भ्रम पैदा करते हैं, युग्म शब्द अथवा 'श्रुतिसमभिन्नार्थक' शब्द कहलाते हैं। श्रुतिसमभिन्नार्थक का अर्थ ही है- सुनने में समान; परन्तु भिन्न/अलग अर्थवाले।

उदाहरण के लिए- यदि आप किसी को बताओ कि 'पक्षी नीर में रहते हैं', तो वह व्यक्ति आपको मुर्ख समझेगा क्योंकि 'नीर' का अर्थ होता है 'पानी' और पक्षी पानी में नहीं रहते। आपको कहना था 'पक्षी नीड़ में रहते हैं' 'नीड़' अर्थात 'घोंसला'।

For a detailed lesson on Yugm shabd, click here- 

 

विलोम शब्द

शब्दों के अपने निश्चित अर्थ होते हैं - उन अर्थों के विपरीत अर्थ देने वाले शब्द विपरीतार्थक शब्द कहलाते हैं।

दूसरे शब्दों में - विलोम का अर्थ होता है - उल्टा। जब किसी शब्द का उल्टा या विपरीत अर्थ दिया जाता है, उस शब्द को विलोम शब्द कहते हैं अर्थात एक–दूसरे के विपरीत या उल्टा अर्थ देने वाले शब्दों को विलोम शब्द कहते हैं। इसे विपरीतार्थक शब्द भी कहते हैं।

जैसे -
भाई - बहन
राजा - रानी
आगे - पीछे
कडवा - मीठा आदि।
For a detailed lesson on vilom shabd, click here - (insert hyperlink of page on vilom shabd)

 

Also See:
Class 10 Hindi Grammar Lessons
Class 10 Hindi Literature Lessons
Class 10 Hindi Writing Skills
Class 10 English Lessons